Corporate Meaning in Hindi | Corporate का हिंदी मतलब क्या होता है?

आज की पोस्ट में हम बात करेंगे Corporate Meaning in Hindi जैसा कि आपने जानते हैं कारपोरेट शब्द का इस्तेमाल व्यापार के क्षेत्र में होता है। ऐसे शब्द आपको बिजनेस कैसे फ्री में काफी सुनाई पड़ेंगे।

ऐसे में बहुत सारे लोगों के मन में सवाल आता है कि आखिर में corporate का हिंदी में क्या मतलब होता है अगर आप इसके बारे में नहीं जानते हैं तो हमारा आर्टिकल पूरा पढ़े तभी जाकर आपको पूरी बात समझ में आएगी।

Corporate Meaning in Hindi

कॉरपोरेट का हिंदी अर्थ होता है ‘निगमित’ या ‘समष्टिगत’ इसका मतलब बड़ी कंपनी या ऑर्गेनाइजेशन से है। इसका इस्तेमाल विशेष तौर पर है बिजनेस के क्षेत्र में काम करने वाले व्यक्तियों के लिए किया जाता है क्योंकि बिजनेस को कॉर्पोरेट शब्द के माध्यम से प्रदर्शित किया जाता है।

दूसरे शब्दों में, प्रॉफिट कमाने वाली किसी बड़ी कंपनी में काम करने वाले व्यक्ति को कॉर्पोरेट (Corporate) कहते हैं। इसके अलावा अधिक लाभ कमाने वाली कंपनियों और कॉरपोरेशंस को भी कॉर्पोरेट कहा जाता है।

What is Corporate in Hindi

Corporate कंपनी या किसी भी संगठन को कहा जाता है। इसका प्रमुख काम कंपनी के सभी आवश्यक गतिविधियों को संचालित करना है। इसके अलावा कंपनी में जितने भी लीगल संबंधित गतिविधियां हैं और साथ में प्रॉफिट इन सब के बारे में कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों को जानकारी देना इसके अलावा कारपोरेट किसी कंपनी का मालिक होता है।

Example of Corporate in Hindi

टाटा  एक जाने-माने कॉरपोरेट्स के अंदर कई प्रकार के कंपनियां सम्मिलित है जो टाटा ग्रुप के माध्यम से संचालित होती हैं। जैसे स्टील, कंज्यूमर गुड्स, केमिकल, आईटी सर्विसेज और एनर्जी में ऑपरेट करती हैं।

“रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड” एक कॉर्पोरेट कंपनी है। ये कंपनी ऑयल, गैस, पेट्रोकेमिकल्स, रिटेल और टेलीकम्युनिकेशन में ऑपरेट करती है। ये कंपनी इंडिया के सबसे बड़ा प्राइवेट सेक्टर की कंपनी है।

अगर विदेशी कॉर्पोरेट कंपनियों के बारे में बात करें ताकि लोगों ने माइक्रोसॉफ्ट का नाम जरूर सुना होगा तो दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी है। इसके अलावा कोकोकोला का नाम भी आप लोगों ने जरूर देखा होगा या सुना होगा कोकोला बहुत बड़ी कंपनी है जिसके प्रोडक्ट दुनिया भर के सभी देशों में बेचे जाते हैं। 

कंपनी रिटेल आउटलेट, वेंडिंग मशीन और वेंडिंग पार्टनरशिप के भी काम करती है।

कॉर्पोरेट के प्रकार – Types of Corporate in Hindi

  • Limited Liability Company (LLC)
  • General Partnership
  • Limited Partnership
  • Sole Proprietorship
  • Co-operative
  • Non-Profit Corporation
  • Public Benefit Corporation
  • Benefit Corporation
  • Statutory Corporation
  • Municipal Corporation
  • Holding Company
  • Parent Company
  • Subsidiary Company
  • State-Owned Enterprise
  • Nationalized Corporation
  • Crown Corporation
  • Hybrid Corporation
  • Virtual Corporation

Corporate Sector Meaning in Hindi

कॉरपोरेट सेक्टर बिजनेस के क्षेत्र में एक प्रॉफिट कमाने वाली कंपनी या संस्था है जिसमें कई लोग मिलकर काम करते हैं और इस प्रकार के कंपनी का संचालन बड़े पैमाने तो होता है। इसके अंतर्गत कंपनी के शेयर होल्डर कर्मचारी प्रबंधन और अनेक स्टेकहोल्डर जैसे चीजें इसके अंदर सम्मिलित होती हैं। तभी जाकर कॉरपोरेट सेक्टर की कंपनियां संचालित हो पाती है।

उदाहरण के लिए आपके पास एक कार निर्माण कंपनी है जो “ऑटो मोटर्स” के नाम से काम करती है। तो “ऑटो मोटर्स” को एक कॉर्पोरेट सेक्टर की कंपनी कहा जाएगा क्योंकि ये एक बड़े पैमाने पर संचालन कर रही है, जिसमें हजारों हजारों की संख्या में कर्मचारी का काम करते हैं तभी जाकर कंपनी का संचालन हो पाता है।

इसके अलावा कंपनी में से  कर्मचारी मैनेजमेंट और दूसरे प्रकार के कई अहम लोग सम्मिलित होते हैं तभी जाकर या कंपनी कॉरपोरेट सेक्टर कंपनी के रूप में काम कर पाती है। इसीलिए इस कंपनी को हम एक Corporate बोल सकते हैं |

Corporate World Meaning in Hindi

Corporate world का मतलब है कंपनियों और ऑर्गनाइजेशन के लिए काम करता है। ये विभिन्न उद्योगों के साथ-साथ shareholders, promoters और workers की गतिविधियों पर अपनी नजर रखना और साथ में कंपनी किस प्रकार विकास करें।

उसके लिए लगातार काम करना होगा आपको अपने कंपनी के संचालन को बनाए रखने के लिए अपने employees, shareholders, suppliers, distributors और ग्राहकों के साथ संबंध स्थापित करना होता है।

आपको competitors की रणनीति और उद्योग के ट्रेंड को ट्रैक करना होता है, और अपनी कंपनी के विकास के लिए रिसर्च एंड डेवलपमेंट, मार्केटिंग और सेल्स प्रयासों को बेहतर बनाना होता है।

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे सोशल मीडिया पर शेयर करे।

Related Articles :-

मै निशांत सिंह राजपूत इस ब्लॉग का लेखक और संस्थापक हूँ, अगर मै अपनी योग्यता की बात करू तो मै MCA का छात्र हूँ.

Sharing Is Caring:

Leave a Comment